Learn what’s best for you

जानिये लाल किताब से कैसे करे अपनी परेशानी दूर

जानिये लाल किताब से कैसे करे अपनी परेशानी दूर

जन्मपत्री मे ग्रहो के दोष दूर करने के लिए लाल किताब उपाय सही तरीके से करने पर बहुत जल्दी लाभ होता है। परन्तु इन्हे योग्य ज्योतिषी से अपनी जन्मपत्री का सही विश्लेषण करा कर ही करना चाहिए। जन्मपत्री मे ग्रहो दुष्प्रभाव का प्रभाव व लाल किताब उपाय.... सुर्य गृह : जन्मपत्री सूर्य के अशुभ होने पर पेट, आंख, हृदय रोग व सरकारी बाधा। उपाय... ताबें का बराबर दो तुकडा काटकर एक को पानी में बहा दें, एक को जीवन भर साथ रखें। चंद्र गृह : चंद्र के कुण्डली में अशुभ होने मानसिक परेशानी, स्मरण शक्ति कमजोर, घर मे पानी समबन्धित परेशानी। उपाय.. साधु को भोजन न करावें। मंगल गृह.. मंगल के अशुभ होने पर संतान सुख कमी, आंख में इन्फेक्शन, गठिया रोग व खून मे इन्फेक्शन। उपाय... तंदूर की मीठी रोटी दान करें। बुध गृह... बुध की अशुभता पर दांत टूट जाये, सूंघनें की शक्ति कम हो जावे, गुप्त रोग व सेक्स समबन्धो मे परेशानी। उपाय... ताबें के प्लेट में छेद कर बहते पानी में बहायें। गुरु : कुंडली में गुरु के अशुभ प्रभाव में आने पर सिर के बाल झड़ने लगते हैं। सोना खो जाता या चोरी हो जाता है। शिक्षा में बाधा आती है। अपयश झेलना पड़ता है। उपाय : माथे या नाभी पर केसर का तिलक लगाएँ। नाक साफ रखे। शुक्र : शुक्र के अशुभ प्रभाव में होने पर सेक्स समबन्ध, स्किन व अँगूठे से समबन्धित परेशानी होती है। उपाय : ज्वार दान करें। शनि : शनि के अशुभ प्रभाव में होने पर मकान / सम्पत्ति, ब्लैक मनी, आग से दुर्घटना व बालो सम्बन्धित इन्फेक्शन होता है। उपाय : कौवे को रोटी / दाना खिलाएँ। राहु : राहु के अशुभ होने पर दिमाग मे भ्रम की स्थति व कोई स्पष्ट निर्णय न लेना, बिना ठोस वजह शत्रुओ मे वृद्धि व नाखून मे इन्फेक्शन रहता है। उपाय : जौ दूध में धोकर बहते पानी में बहाएँ। केतु : केतु के अशुभ प्रभाव में होने पर जोड़ों, मूत्र व किडनी संबंधी रोग व संतान परेशान रहती है। उपाय : कान छिदवाएँ। बाजार में लाल किताब में लिखी बातों को समझने वाले, लाल किताब के जरिए भविष्यवाणी करने का दावा ठोकने वाले बहुत से लोग मिल जाएंगे, लेकिन वास्तविक रूप में उन्हें लाल किताब की कितनी जानकारी है इस बात पर हमेशा संशय रहता है। शुरुआती समय में लाल किताब में 383 पृष्ठ थे, यह वो दौर था जब पंजाब में उर्दू भाषा का ही चलन था इसलिए इस किताब को भी उर्दू, अरबी और फारसी के मिश्रण के साथ लिखा गया था। इसके अरबी में लिखे होने की वजह से लाल किताब को भी अरबी विद्या मान लिया गया, जबकि इसका सीधा संबंध भारत के पंजाब प्रांत से रहा। आजकल बाजार मे हिंदी भाषा मे अनुवादित लाल किताब उपलब्ध है, जिसे अनेक लेखकों ने अपने विवेक के अनुशार अनुवादित किया है... लाल किताब से अपनी जन्मपत्री से सम्बन्धित सवालो के जवाब के लिए हमे लिखे... पंकज कुमार - मोदीनगर लाल किताब ज्योतिष के आधार पर जन्मपत्री मे ग्रहो का प्रभाव एवं लाल किताब ग्रहो सम्बन्धित सामान मंगवाने के लिए मोबाइल नंबर 8267894348, 9873321395 Astrolok is one of the best astrology institute where you can learn vedic astrology, marriage astrology, nadi astrology, horoscope matching through live vedic astrology classes. It is a free platform to write astrology articles. Become a part of it by registering at https://astrolok.in/my-profile/register/

comments

  • poonam jain
    2019.04.17

    Hi, i would like lal kitab remedies and and predictions for myself ,and also i am interested in doing the full course of astrology,kindly send me all the details of the above 2 matters.

  • nzvcfalulp
    2020.04.02

    wifes biggest ever viagra man puts womens viagra in wifes drink female viagra pfizer viagra online usa viagra where to buy viagra viagra prices viagra 1

Leave a reply

Let's Chat